भागलपुर हिंसक झड़प मामले में DM का नया ऐलान, और INTERNET अब 48 घंटे तक रहेगा बंद

चंपानगर चौक पर हुए उपद्रव के बाद जिन भी लोगों को आर्थिक रूप से नुकसान हुआ है जिला प्रशासन उन्हें मुआवजा देगा। पूरी तरह शांति कायम होने के बाद ऐसे लोगों की पहचान की जाएगी।

 

ये बातें रविवार को नाथनगर थाना में डीएम आदेश तितरमारे ने कहीं। उन्होंने कहा कि क्षति के आंकलन का कार्य आरंभ किया जा चुका है। उपद्रव के बाद शांति के लिए क्षेत्र में अठारह जगहों पर दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। सीआरपीएफ के जवानों को जगह-जगह तैनात किया गया है। इंटरनेट सेवा 48 घंटे तक बाधित रहेगी।

 

समीक्षा के बाद ही सेवा बहाल की जाएगी। उन्होंने कहा कि शहर में शांति बहाल हो चुकी है। लिहाजा क‌र्फ्यू की कोई जरूरत नहीं है। लोगों से आग्रह है वे अफवाह पर ध्यान ना दें। अफवाह फैलाने वालों की पहचान कर जिला प्रशासन को सूचित करें। उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

 

भागलपुर में हिंसक झड़प मामले में तेजस्वी ने नीतीश को लिए अड़े हाथ.

भागलपुर में हिंसक झड़प मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने इसे उपचुनाव से जोड़ते हुए कहा है कि हार से बौखलाकर भागलपुर में उपद्रव कराया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा है कि वह ऐसे तत्वों को प्रोत्साहित क्यों कर रहे हैं? विदित हो कि भागलपुर में शनिवार को दो समुदायों में झड़प हुई थी।

 

तेजस्वी ने रविवार को ट्वीट करके हिंसक झड़प का ठीकरा सरकार पर फोड़ा और कहा कि हार की बौखलाहट में अररिया, दरभंगा के बाद अब भागलपुर में उपद्रव करवाया गया। असामाजिक तत्वों पर अंकुश नहीं लगाने का आरोप लगाकर तेजस्वी ने नीतीश पर निशाना साधा। ट्वीट में उन्होंने नीतीश पर माहौल बिगाडऩे वाले तत्वों को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। तेजस्वी ने लिखा कि गृह विभाग नीतीश के पास है। फिर भी माहौल बिगाडऩे वाले तत्वों से वह निपट नहीं पा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *